Blogging kya hai

Blogging kya hai? ब्लॉगिंग कैसे करते हैं? ब्लॉगिंग से क्या फायदा है? ब्लॉगिंग क्यूं करते हैं? ब्लॉगिंग कैसे शुरू करें? आइए जानते है विस्तार से ब्लॉगिंग के बारे में।

हेलो दोस्तों मेरा नाम मुन्ना आलम है और मैं आज ब्लॉगिंग से संबंधित सभी रोचक जानकारी आपके साथ साझा करने वाला हूं। आपने ब्लॉगिंग के बारे में बहुत सुना होगा और काफी लोग ब्लॉगिंग करने के लिए कहते है मगर आपको पता ही नही है की Blogging kya hai और ब्लॉगिंग क्यों करना चाहिए। और इससे क्या क्या फायदे हैं।

यह सबसे पहले जानते हैं कि Blogging kya hai और ब्लॉगिंग क्यों करना चाहिए जिससे क्या-क्या फायदे हैं इत्यादि।

Blog और bligging में क्या अंतर है?

आइए सबसे पहले जानते हैं blogging kya hai और blog और blogging में क्या अंतर है।

Blog वह होता है जैसे कि कोई वेबसाइट या आर्टिकल को पब्लिश कर कर छोड़ देना और उस पर ध्यान ना देना और उस पर कोई काम ना करना वह एक blog कहलाता है।

Blogging वह होता है जो अपनी वेबसाइट पर या यूट्यूब चैनल पर लगातार अपडेट करते रहना या लगातार नए-नए आर्टिकल पब्लिश करना उसे ब्लॉगिंग कहते हैं।

Blogging kya hai

आपने ब्लॉगिंग के बारे में अक्सर यूट्यूब में वीडियो देखा होगा और काफी यूट्यूब पर से सुना भी होगा कि ब्लॉगिंग करना चाहिए या नहीं करना चाहिए या ब्लॉगिंग से क्या-क्या फायदे हैं और Blogging kya hai लेकिन आप करना भी चाहते हैं पर आपको उसकी पूरी जानकारी नहीं है इसलिए आप ब्लॉगिंग के पूरी जानकारी हासिल करना चाहते हैं। ताकि आप भी बोलोगी के बारे में जान सकें और ब्लॉगिंग कर सकें आइए जानते हैं Blogging kya hai।

ब्लॉगिंग 2 प्रकार के होते हैं।

  1. Parsonal blogging
  2. Professionals blogging

1: पर्सनल Blogging kya hai?

परसनल ब्लॉगिंग वह है जो व्यक्ति अपने जिंदगी से संबंधित कहानी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों तक पहुंचाते हैं और अपनी जिंदगी की कहानी अन्य लोगों के साथ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से साझा करते हैं उसे पर्सनल ब्लॉगिंग कहते हैं।

जैसे कि आपकी जिंदगी में कोई विचित्र कहानी है या आप कोई ऐसी दौर से गुजरे हैं जो एक कहानी का रूप धारण करती है और वह कहानी आप अन्य लोगों के साथ साझा करना चाहते हैं यानी वह कहानी आप दूसरों लोगों को सुनना चाहते हैं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से। यदि आप अपनी जिंदगी की वह कहानी अन्य लोगों तक पहुंचाते हैं तो उसे पर्सनल बनोगी कहते हैं।

अक्सर आपने देखा होगा बहुत से लोग कहीं घूमने जाते हैं तो वह किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जैसे= facebook, instagram, reddit, पर live आकर लोगों को बताते हैं कि मैं यहां पर घूमने के लिए आया हूं, यहां का यह जगह खूबसूरत है, या यहां की यह सबसे मशहूर चीज है, या घूमने के लिए यह बहुत अच्छी जगह है, या इस जगह ही कुछ अलग विचित्र खास बात है, इत्यादि। तो इसे पर्सनल ब्लॉगिंग कहते हैं।

अब तो आपको पता चल ही गया होगा कि पर्सनल Blogging kya hai और पर्सनल ब्लॉगिंग कैसे कहते हैं।

पर्सनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं?

आइए आप जानते हैं पर्सनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं। पर्सनल ब्लॉगिंग से पैसे कमाने के लिए पूरी तरह से subscribers और followers पर निर्भर होता है। यदि आप फेसबुक इंस्टाग्राम और reddit पर पर्सनल ब्लॉगिंग करते हैं तो पैसे कमाने के लिए आपको followers की जरूरत पड़ेगी। तभी आप पर्सनल blogging से पैसा कमा सकते हैं यदि आपके पास followers अधिक मात्रा में है तो आप पर्सनल ब्लॉकिंग करके अच्छा खासा पैसे कमा सकते हैं। यदि आपके पास followers कम है तो आप बहुत ही कम मात्रा में पैसे कमा पाएंगे जो बिल्कुल ना के बराबर होगा।

यदि आप वही पर्सनल ब्लॉगिंग यूट्यूब पर करते हैं और आपका यूट्यूब पर subscribers अधिक मात्रा में है तब भी आप भारी मात्रा में पैसा कमा सकते हैं। यदि आप के पास subscribers कम है तो आप कम पैसे कमा पाएंगे। यह पूरी तरह से subscribers और followers पर निर्भर करता है।

पर्सनल ब्लॉगिंग से पैसे कमाने के तरीके।

परसनल ब्लॉगिंग से आप 2 तरह से पैसे कमा सकते हैं।

  • Affiliate marketing
  • Google AdSense

(first) = affiliate marketing क्या है?.

यदि आप का followers फेसबुक इंस्टाग्राम reddit पर है तो आप affiliate marketing करके पैसे कमा सकते हैं।

जब आपने affiliate marketing का नाम सुन लिया है तो आप उसकी पूरी जानकारी ही बता देता हूं।
affiliate marketing से पैसे कैसे कमाए जाते हैं? affiliate marketing क्या है? आइए जानते हैं।

affiliate marketing उसे कहते हैं जब आप किसी कंपनी का प्रोडक्ट के बारे में आप अपने subscribers से followers को बताते हैं कि यह प्रोडक्ट बहुत अच्छा है इसे खरीदना चाहिए यदि आप का कोई subscribers यह followers इस प्रोडक्ट को खरीदता है तो वह कंपनी आपको कमीशन के रूप में पैसे देते हैं। आप जितना ज्यादा प्रोडक्ट सेल करेंगे आपको उतना ही ज्यादा कमीशन दिया जाता है। इसे affiliate marketing कहा जाता है।

(second) = Google AdSense क्या है।

यदि आपका YouTube चैनल है और आपके पास भारी मात्रा में subscribers है तो आप Google AdSense के माध्यम से पैसे कमा सकते हैं।

जब आप यूट्यूब पर चैनल बनाते हैं और आपके पास से subscribers अधिक मात्रा में बढ़ जाते हैं तब आपको Google AdSense कंपनी एड लगाने की अनुमति देते हैं जितने visitor’s आपके वीडियो को देखेंगे आपको उसी हिसाब से पैसे दिए जाते हैं।

आपने यूट्यूब पर देखा होगा जब आप कोई videos को play करते हैं तो आपकी videos में ads भी दिखाया जाता है। वह ads google adsense का होता है। Google adsense एक दुनिया का सबसे बड़ा ads network कंपनी है।

अब तो आपको पता चल ही गया होगा की पर्सनल Blogging kya hai और पर्सनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं।

2: प्रोफेशनल Blogging kya hai?

आपने पर्सनल ब्लॉगिंग के बारे जान लिया होगा की पर्सनल Blogging kya hai और कैसे किया जाता है। आइए अब जानते हैं कि प्रोफेशनल Blogging kya hai, और प्रोफेशनल ब्लॉगिंग कैसे करते हैं। और प्रोफेशनल ब्लॉगिंग किसे कहते हैं और प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से क्या-क्या फायदे हैं। आइए जानते हैं।

जब आपके पास किसी चीज की जानकारी हो और उस जानकारी को वेबसाइट के माध्यम से या यूट्यूब के माध्यम से आप लोगों तक पहुंचाते हैं और लोग आपकी वेबसाइट पर या यूट्यूब पर आकर वह जानकारी को हासिल करता है तो उसे प्रोफेशनल ब्लॉगिंग कहते हैं।

जैसे कि आप गूगल में सर्च कर रहे हैं की Blogging kya hai तो गूगल आपको बहुत सारे परिणाम खोज कर देते हैं। आपको जो परिणाम देखने को मिलता है वह किसी ब्लॉगर द्वारा अपलोड किया हुआ होता है। Same वैसे ही youtube पर आप कोई भी videos सर्च करते है तो आपको जो videos दिखाया जाता है वह किसी youtubers द्वारा अपलोड किया हुआ होता है।

अभी आप जो article पढ़ रहे हो की Blogging kya hai, यह article एक ब्लॉगर यानी मेरे द्वारा अपलोड किया गया है। जो अपनी website या youtube channal को प्रतिदिन अपडेट करता है यानी दिल से मेहनत करता है उसे ही प्रेफेशनल ब्लॉगिंग कहते है।

अक्सर लोग ब्लॉगिंग शुरुआत करने से पहले उनके मन में यह सवाल होता है कि Blogging kya hai ब्लॉगिंग कैसे करते हैं और ब्लॉगिंग करने के कौन-कौन से तरीके हैं आज इस सूची में मैं ब्लॉगिंग से संबंधित पूरी जानकारी आप लोगों के साथ साझा किया हूं।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए

प्रोफेशनल blogging kya hai, और प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए। प्रोफेशनल ब्लॉगिंग में गुगल बहुत मदद करता है पैसे कमाने के लिए यदि आप वेबसाइट बनाते हैं पर प्रोफेशनल ब्लॉगिंग करने के लिए तो उसमें आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ती है और ना ही तो इसमें किसी स्क्राइबर्स और फॉलोअर्स की आवश्यकता होती है। प्रोफेशनल पूरी तरह से रैंक पर निर्भर होता है। और यह काफी आसान होता है।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से कई तरीके से पैसे कमाया जाता है। जिसमे से सबसे आसान तरीका है ,(1) Google AdSense के माध्यम से और (2) affiliate marketing से (3) guest posting से जो की बहुत आसान होता है।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से कितना कमाया जा सकता है।

अब तक तो आपको पता चल गया होगा प्रोफेशनल Blogging kya hai और प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाया जाता है। आइए अब जानते हैं की प्रोफेशनल ब्लॉगिंग से कितना कमाया जा सकता है।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग में कमाई की कोई सीमा नहीं है यह आपकी मेहनत के ऊपर निर्भर करता है। कमाई करने के लिए शुरुआत में कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है, उसके बाद जब आपकी वेबसाइट google में रैंक होने लगता है तो फिर आपको अधिक मेहनत करने की आवश्यकता नहीं होती है। या यूं समझ लो किस सिर्फ आपकी वेबसाइट को गूगल में रैंक करने के लिए मेहनत करना पड़ता है।

शुरुआत में ब्लॉगिंग से पैसे कमाने में थोड़ा समय लगता है जब आप की वेबसाइट गूगल में रैंक हो जाती है फिर आपकी income start हो जाती हैं। ऐसा मन कर चलो कि आपको $100 कमाने में 1 साल का समय लग सकता है। जब आप की वेबसाइट 1 साल पुरानी हो जाएगी और यह गूगल में रैंक होने लगेगी तो आपकी इनकम बढ़ती रहेगी।

ब्लॉगिंग कैसे करते हैं

अब तक तो आपने समझा कि Blogging kya hai, आइए आप जानते हैं कि ब्लॉगिंग कैसे करते हैं।

  1. Website बनाकर ब्लॉगिंग करें।
  2. YouTube channel बनाकर

ब्लॉगिंग कई तरह से किया जाता है जिसमें पहला है वेबसाइट बनाकर ब्लॉगिंग करना। वेबसाइट बनाकर ब्लॉगिंग करने मैं सबसे आसान होता है और यह गूगल में आसानी से रैंक भी हो जाता है। ब्लॉगिंग करने का सबसे पहला तरीका यही है।

  • WordPress

वेबसाइट बनाने के लिए बहुत सारी ऐसी वेबसाइट है जहां पर वेबसाइट बनाने की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। जिसमें सबसे पहला है wordpress,

WordPress

दुनिया में जितने भी वेबसाइट है 66% वेबसाइट wordpress के द्वारा बनाया गया है। क्योंकि wordpress में वेबसाइट बनाने और डिजाईन करने की और गूगल में रैंक कराने की सभी सुविधा मौजूद होती है जो बाकी वेबसाइटों में नहीं होते हैं। इसलिए जब भी वेबसाइट बनाएं तो वर्डप्रेस पर ही बनाएं।

  • Blogger

वेबसाइट बनाने के लिए दूसरा तरीका है Blogger, ब्लॉगर गूगल का ही प्रोडक्ट है और गूगल यह सुविधा मुफ्त में हर किसी के लिए प्रदान करती हैं। अधिकतर नए ब्लॉगर ब्लॉगिंग सीखने के लिए blogger का ही इस्तेमाल करते हैं क्योंकि यह पूरी तरह से मुफ्त होता है। जब वह ब्लॉगिंग सीख जाते हैं तब वह wordpress में ब्लॉगिंग शुरू करते हैं।

Blogger

  • Youtube channel

तीसरा तरीका है यूट्यूब चैनल बनाकर ब्लॉगिंग करना। यूट्यूब भी गूगल का ही एक प्रोडक्ट है और गूगल यह सुविधा हर किसी के लिए मुफ्त में प्रदान करती है। ब्लॉगिंग करने के लिए यूट्यूब में शुरुआत में पैसे खर्च करने पड़ते हैं वहीं पर आप वेबसाइट बनाकर ब्लॉगिंग करते हैं तो आप बहुत कम पैसे से ब्लॉगिंग स्टार्ट कर सकते हैं।

YouTube

ब्लॉगिंग करने के लिए यूट्यूब भी सबसे अच्छा विकल्प है आप यूट्यूब पर चैनल बनाकर भी ब्लॉगिंग स्टार्ट कर सकते हैं और अच्छा खासा पैसे कमा सकते हैं।

हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास

आइए अब जानते है हिंदी blogging kya hai और हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास क्या है।हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास काफी पुराना है पहली बार 2003 में श्री आलोक कुमार द्वारा हिंदी ब्लॉग बनाया गया था तब से लेकर आज तक हिंदी ब्लॉगिंग काफी चर्चा में रहा है और काफी उपयोगी भी साबित हुआ है।

जब कोई भारतीय उपयोगकर्ता गूगल में कोई सवाल या कुछ खोजता था तब उसे हिंदी में कोई परिणाम नहीं मिलता था 2003 में श्री आलोक कुमार ने पहली हिंदी ब्लॉग बनाकर एक नई मिसाल कायम की और आज यह हाल है कि आप कुछ भी हिंदी में गूगल में खोजते हैं तो आपको हिंदी में ही जवाब मिल जाते हैं। इसी कारण श्री आलोक कुमार आज हिंदी ब्लॉगिंग के प्रथम गुरु माने जाते हैं आदि से किसी की भी परिचय की आवश्यकता नहीं है।

हिंदी ब्लॉगिंग को google adsense से भी मान्यता मिली है यदि आप हिंदी ब्लॉग बनाते हैं तो google adsense का approval लेने में ज्यादा समय नहीं लगता है। हिंदी ब्लॉगिंग से भी भारी मात्रा में पैसे कमाए जाता है।

काफी लोगों का सवाल होता है कि Blogging kya hai और हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास क्या है उम्मीद करता हूं कि इस लेख को पढ़ने के बाद आपको ब्लॉगिंग से संबंधित सभी जानकारी मिले।

शुरुआती के लिए ब्लॉगिंग

अब तक तो आपने समझा कि Blogging kya hai और यह किस तरह से काम करता है और इससे कितना पैसे कमाया जा सकता है आइए जानते हैं कि शुरुआती के लिए ब्लॉगिंग कौन सा शुरू करना चाहिए या कौन niches पर काम करना चाहिए।

ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले आपको एक niches चुनना होगा कि आप कौन से niches पर काम करना चाहते हैं आपको किस चीज की जानकारी है। जब भी आप ब्लॉगिंग शुरू करें तो आप शुरुआत में अपने ही भाषा में blog बनाएं और उस niches पर काम करें जिस niches की आपको पूरी जानकारी हो।

जैसे आप एक छात्र हैं तो आपको स्कूल से संबंधित सभी जानकारियां होगी, या class से संबंधित सभी जानकारियां होगी, या स्कूल में पूछे जाने वाले हैं प्रश्न से संबंधित जानकारियां होगी, तो आप उसी जानकारी को एक niches बनाकर काम करें। और यह शुरुआत में आपको बहुत उपयोगी साबित होगा अपनी वेबसाइट को गूगल में रैंक कराने के लिए।

काफी लोगों का यही सवाल होता है कि शुरुआत में ब्लॉगिंग के लिए कौन सी niches पर काम करें?

इसकी जानकारी आप अपने अंदर ही खोजें की आपको किस चीज की जानकारी है। हमारे बताने या किसी और के बताने से उस niches वह जानकारी आप पूरी तरह से लोगों तक शेयर नहीं कर पाएंगे। यदि संपूर्ण जानकारी आपके पास है तो आप आसानी से समझ भी जाएंगे और वह जानकारी आप लोगों को अच्छे से पहुंचा भी पाएंगे।

इसलिए ब्लॉगिंग उस niches पर करें जिस niches की की आपको पूरी तरह से जानकारी हो। अभी उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट या युटुब चैनल पर आएंगे और आप पर भरोसा करके आपका आर्टिकल पड़ेंगे।

उम्मीद है कि आपको ब्लॉगिंग से संबंधित पूरी जानकारी मिली होगी कि ब्लॉगिंग कैसे करना है Blogging kya hai और ब्लॉगिंग से क्या-क्या फायदे हैं।

हमारी राय यही है कि आप ब्लॉगिंग पर ध्यान दें और ब्लॉगिंग सीखें आने वाले समय में आपको बहुत लाभ मिलेगा ब्लॉगिंग करने से आपकी knowledge बढ़ेगी और आप एक आत्मनिर्भर इंसान बन पाएंगे। खुद के लिए और अपने परिवार के लिए अपने आप को बदलें और एक कामयाब व्यक्ति बनें।

हम में से अधिकतर लोग इंटरनेट से सिर्फ लेते है चाहे वो मनोरंजन हो, शिक्षा हो , या ज्ञान हो। इसका मुख्य कारण है कि हमने सिर्फ इंटरनेट चलाना सीखा है हमने इंटरनेट का उपयोग करना नही सीखा। इंटरनेट का उपयोग करना सीखे इंटरनेट कैसे काम करता है इंटरनेट से कैसे पैसे कमाया जाता हैblogging kya hai इसकी जानकारी प्राप्त करें और पैसे कमाएं।

Conclusion

तो आशा करता हूं कि आप लोगों को मेरा यह लेख पसंद आया होगा blogging kya hai, ब्लॉगिंग कैसे करते हैं, ब्लॉगिंग करना चाहिए या नहीं इसकी पूरी जानकारी मैंने इस लेख के माध्यम से आप लोगों तक पहुंचाया है। Blogging kya hai का यह लेख आपको कैसा लगा कृपया में कमेंट करके अवश्य बताएं। यदि आप और भी ब्लॉगिंग से संबंधित कोई जानकारी चाहते हैं तो हमें अवश्य बताएं आप की सभी प्रश्न का उत्तर अवश्य देंगे।

हमारी इस वेबसाइट के बेल के आइकॉन को दबाकर सब्सक्राइब अवश्य करें क्योंकि मैं ब्लॉगिंग से संबंधित और भी कई आर्टिकल पब्लिश करने वाला हूं जो नए ब्लॉगर्स के लिए उपयोगी साबित होगा। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *